OCR kya hai? OCR ka full form हिंदी में.

What is ocr in hindi? OCR ka full form. 

नमस्कार दोस्तों आप सभी को आपके website Tech Review Pad में स्वागत करता हूँ.  दोस्तों आज के इस article में हमलोग OCR kya hai? OCR ka full Form, OCR full form in Hindi , How OCR works in Hindi, Advantages and Disadvantages of OCR and Application of OCR के बारे में विस्तार में बाते करेंगे. 

दोस्तों अगर आपका interest technology पे ज्यादा है या आप कोई ऐसे organisation के साथ काम करते हो जहाँ document texting का काम ज्यादा होता है तो अपने जरुर OCR के बारे में सुना होगा या फिर आप इसका प्रयोग भी कर चुके होगे. पर दोस्तों क्या आप यह जानते है की ocr ka full form kya hota hai, ocr kya hai? और OCR काम कैसे करता है? (How OCR works in Hindi?) Advantages and Disadvantages of OCR अगर आप  इन टॉपिक के बारे में विस्तार में जानना चाहते हैं तो बिल्कुल सही जगह पर आए हैं. 


OCR kya hai? OCR ka full form हिंदी में

OCR एक प्रकार का Device या Software है जिसका प्रयोग इमेज में या फिर किसी प्रिंट किए हुए पेपर या किसी हैंडराइटिंग में लिखे  गए डाटा को OCR कंप्यूटर द्वारा  समझे जाने वाले Text के रूप में परिवर्तित करता है जिसके करण कंप्यूटर बिना किसी आदमी की मदद से text को बड़े ही आराम से read करता है और कंप्यूटर में text को खुद ही अपने data base में type कर लेता है. अभी के समय में कंप्यूटर के लिए बोहोत से ऐसे software मौजूद है जो OCR जैसी technology के साथ आते है. 

OCR का full form Optical Character Reader या Optical Character Recognition होता है.


जरुर पढ़े :- OMR क्या है? OMR का full form क्या है?


जरुर पढ़े :-OK का full form क्या है? OK शब्द का उत्प्पन कैसे हुआ और कहाँ से हुआ?


दोस्तों अगर आप पुरे विस्तार में OCR के बारे में जानना चाहते है तो आप इस article के साथ बने रहे आपको OCR के बारे में सारी महत्वपूर्ण जानकारी मिल जाएगी. तो दोस्तों चलिए शुरू करते है :- 


OCR kya hai? What is OCR in Hindi? 


OCR एक ऐसे electronic device है जिसकी मदद से हम किसी भी image में लिखे text, printing paper में लिखे text या किसी भी आदमी के द्वारा लिखे गए text को OCR की मदद से machine understanding language में convert करता है.

किसी भी Analog text को वो चाहे Number हो या latter को OCR की मदद से बड़े ही आराम से Degital form में convet कर सकते है.  


OCR की परिभाषा क्या है? What is the definition of OCR? 


OCR जिसे Optical Character Reader या Optical Character Recognition भी कहा जाता है एक ऐसी technology है जिसकी मदद से कोई भी analog text जैसे image में लिखे text और number को printing paper में लिखे text को और number  या किसी भी आदमी के द्वारा लिखे गए text को और number को Machine understanding language या में decode करता है. 


OCR ka full form kya hota hai? What is the Full form of OCR?


OCR का full form Optical Character Reader या Optical Character Recognition है.


What is OCR full form in Hindi? OCR full form in Hindi.


O - Optical - प्रकाशित

C - Character -  अक्षर

R - Reader/Recognition - पाठक/मान्यता 


इसका हिंदी मतलब यह यह है की यह प्रकाशित अक्षर को पढने का काम करता है.


OCR काम कैसे करता है? How OCR works in Hindi?


जैसे हमलोग पहले समझ चुके है की OCR एक प्रकार का electronic device है जो analog form में लिखे number या latter को मशीन understanding language में convert करता है. 

इस technology का प्रयोग अभी के समय में data entry, number plate recognition अदि में किया जाता है. 


OCR के मुख्यता दो techniques है जिसमे OCR काम करती है ये दो techniques Pattern Recognition और Feature Extraction 

दोस्तों इन दोनों techniques को बारी-बारी से समझ लेते है :-


Pattern Recognition :- 


Pattern Recognition को Pattern Matching या Matrix Matching भी बोला जाता है. इस technique में एक विशेष type के Font ( आप इस font का image निचे देख पा रहे होंगे ) जिसमे number और letter दोनों शामिल होते है को software के माध्यम से install किया हुआ रहता है. 

जब भी कंप्यूटर को कोई text को scan करना होता है तो कंप्यूटर में उपलब्ध text को Ocr में उपलब्ध text से compare करता है और अगर वह text, OCR में उपलब्ध text के font से मिलता है और उन text का आकर भी एक जैसा होता है तो कंप्यूटर उस text को पढ़ लेता है.


OCR kya hai? OCR ka full form हिंदी में
 Unique fonts


इस technique की कमी यह है की यह सिर्फ उसी same प्रकार के font को ही read कर पाती है जो Software में install होती है और उस font का आकर भी same होना चाहिए. इस technique में कंप्यूटर कोई भी दूसरे font को read नहीं कर पाएगी.

यह OCR technology का प्रथम चरण था. और इन Fonts को लगभग सन 1960 के समय में बनाया गया था जिसमे सारे character एक ही font और width के होते है.    


इन Fonts का प्रयोग मुख्यता bank cheque में इस्तेमाल किया जाता है अगर आपके घर में भी cheque book है तो आप देख सकते हो.


जरुर पढ़े :- Mbps और MBps में क्या अंतर है? Mbps को MBps में convert कैसे करे?


जरुर पढ़े :- Printer क्या है? Printer के प्रकार कौन-कौन से है?


Feature Extraction :-


यह एक बोहोत ही सही तरीका है कंप्यूटर के लिए एक character को पहचानने का इसमें एक character को वो चाहे number हो letter को विभिन्न भागों जैसे line, closed loop, line direction एंड instructions में बंटा होता है जिसके करण इस technique में कंप्यूटर को किसी भी letter या number को पहचाने के लिए एक विषेस प्रकार के font की आवश्यकता नहीं होती है और किसी विषेस font के बिना ही इस method के द्वारा किसी भी letter या number को कंप्यूटर easily पहचान सकता है.

इस method का आविष्कार Pattern Recognition के बोहोत बाद में हुआ था. और यह एक एडवांस method है किसी भी character को read या recognition करने का.


एक character “A” example के माध्यम से इस तरीके को समझने की कोशिश करते है :-

  • A में तीन लाइन उपस्थित होते है.
  • इस method में कंप्यूटर इस प्रकार से समझता है की अगर दो angled lines ऊपर मिल रही है.
  • और दोनों angled lines एक horizontal लाइन के साथ जुड़ रही है तो यह “A” letter का निर्माण करेगा आप निचे दी गई आरेख को देख कर समझ सकते है.
OCR kya hai? OCR ka full form हिंदी में


इन process को और भी ज्यादा improve करने के लिए अभी के समय में हम कुछ software और AI (Artificial Intiligence) का उपयोग किया jat है  जिसके करण वह Image या किसी भी handwriting को read कर सकते है चलिए  इस software के बारे में जान लेते है.

  • De-skew - यह एक ऐसा software है जिसकी मदद से टेढ़ी-मेढ़ी image या खिंची हुई image को को सीधा किया जा सकता है. यह प्रक्रिया कुछ graphics का उपयोग करके होता है. जिसके कारण image को कंप्यूटर बिना किसी दिक्कत के read कर पाती है.
  • Despeckle - इसकी मदद से image में लगे spot को निकलने और character के edge को smooth करने के लिए किया जाता है.
  • Character Isolation - जो character एक दुसरे से जुड़े होते है उन्हें इसके मदद से edit किया जा सकता है.
  • Layout Analysis - इसमें किसी image या printing paper या किसी handwriting के layout को identify किया जाता है. जैसे :- titel, text position , paragraph etc.
  • Line Removal - अगर text में कोई extra line है या box है जो text को overlap कर रही है यह उन lines को identify करके line को remove करता है.

इन सारे software का प्रयोग OCR scanning के पहले किया जाता है ताकि OCR technology को और भी improve किया जा सके और अभी के समय में इन सभी softwares के अलावा भी AI का उपयोग होता है जिसकी मदद से एक word के बाद आने वाले word को भी कंप्यूटर बड़े ही आराम से पहचान लेता है. और कोई word का spelling mistake भी हो तो AI और software के साथ मिल कर उसे भी ठीक कर सकता है.


एक example के माध्यम से समझ लेते है :- 

एक sentence है “What is your namee.” जिसमे “name” का spelling गलत है पर computer खुद ही  AI का उपयोग करके Namee को Name कर लेगा. 


जरुर पढ़े :- UPS कितने प्रकार के होते है? UPS का full form क्या है?


जरुर पढ़े :- Cyber Security क्या है? Types of Cyber Security in Hindi.


Advantages and Disadvantages of OCR. OCR के फायदे और नुकसान 


दोस्तों हमलोग अभी तक OCR kya hai, What is OCR in Hindi, OCR की परिभाषा क्या है, OCR ka full form kya hota hai, OCR full form in Hindi, How OCR work in Hindi के बारे में विस्तार में जान चुके है अब हमलोग Advantages and Disadvantages of OCR के बारे में भी जन लेते है तो दोस्तों चलिए आगे बढ़ते है :-


Advantages of OCR. OCR ke fayde :-


1) High Productivity :- OCR technology का उपयोग से productivity को increase किया जा सकता है.


2) Cost Reduction :- इसकी मदद से cost reduction किया जा सकता है. क्योकि इसके उपयोग से manpower कम उपयोग होता है.


3) High Accuracy :- इसकी मदद से हमें accurate result मिल पता है और गलती की संभावना न के बराबर होती है.


4) Less Storage Required :- इसकी मदद से OCR scan करके digital format में direct ही store करता है जिससे space भी कम use होता है और बड़े image file या text files को रखने की जरुरत नहीं पढ़ती.


5) Data Security :- इसकी मदद से हम analog text को digital formet में save कर सकते है जिसकी मदद से हमें text file के खोने का डर नहीं रहता. अगर हम कोई paper में text को store करते है तो उसके चोरी होने , खोने का डर बना रहता है. 


6) Make Documents Editable :- OCR की मदद से Analog text को digital text में convert कर सकते है. जिसके करण अगर text में कोई गलती हो तो हम digital text को बड़े ही आराम से edit कर सकते है.


7) Disaster Recovery :- क्योंकि इसकी मदद से हम digitally stored data को online किसी server में save कर सकते है जिसके करण हम किसी भी प्राकृतिक आपदा से बच सकते है. 


Disadvantages of OCR. OCR ke nuksan :-


1) Not 100% Accurate :- OCR process accurately काम करता है पर यह 100% accurate नहीं होते इसमें थोड़ी बोहोत mistake हो जाती है जिसे किसी आदमी की मदद manualy ठीक किया जा सकता है.


2) अगर Handwriting बोहोत ही ख़राब है या Printed paper की quality बोहोत ही ख़राब है तो OCR उस text को read ही नहीं कर सकता.


3) OCR system महंगे होते है.


4) OCR की मदद से कोई भी document को  scan किया जाता है तो उसे carefully proofreading की जरुरत पढ़ती है. 


Application of OCR. OCR का उपयोग.


1) Banking :- Banking में OCR का उपयोग cheque में लिखे text को scan करने में किया जाता है.


2) Data Entry For Documents :- अभी के समय में किसी भी industry में OCR का प्रयोग data entry के लिए use लिया जा रहा है जिसके करण हमें menpower भी कम use होता है और cost cutting भी हो जाता है.


3) Automatic Number Plate Recognition :- OCR technology की मदद से सभी Vehicle के number plate को scan किया जा सकता है.  


4) Airport :- Airport में भी इस technology का उपयोग Passport recognition के लिए भी किया जाता है.


5) Book scanning के लिए भी अभी इस technology का उपयोग किया जा सकता है.


6) Handwriting को digital text में convert किया जा सकता है. 


Final Word 

मेरे को यह आशा है की यह article OCR kya hai? OCR ka full Form, OCR full form in Hindi , How OCR works in Hindi, Advantages and Disadvantages of OCR, application of OCR आप सभी को पसंद आया होगा और अगर आपको कोई सवाल या सुझाव है तो आप निचे दिए comment section में comment करे या आप हमारे official mail ID techreviewpad@gmail.com पे mail कर सकते है.


अगर आपको यह article पसंद आया तो आप please इस article को share जरुर करे और ऐसे ही technology से related information पाने के लिए मेरे website को SUBSCRIBE जरुर करे. Thank You!!!!!


Post a Comment

Please do not enter any spam link in the comment box

Previous Post Next Post