UPS ka full form kya hai? और UPS क्या है?

UPS ka full form kya hai? और UPS kya hai? जाने विस्तार में 


नमस्कार दोस्तों आप सभी को आपके website Tech Review Pad में स्वागत करता हु. आज के इस article में हमलोग UPS ka full form kya hota hai? UPS क्या होता है? UPS काम कैसे करता है? UPS के प्रकार कौन-कौन से है?, Parts of UPS, और UPS के फायदे और नुकसान के बारे में विस्तार में Study करेंगे. 


UPS का full form क्या है? और UPS क्या है?


दोस्तों अगर आप एक कंप्यूटर Geek है या फिर आप कंप्यूटर के बारे में पढ़े होंगे तो आप जरुर UPS के बारे में तो सुना ही होगा या आपको इसके बारे में कुछ knowledge हो सकता है. दोस्तों अगर आपको UPS के बारे में ज्यादा knowledge नहीं है या आप UPS kya hai, UPS ka Full Form kya hai , Types of UPS के बारे में नहीं जानते तो आपको परेशान होने की आवश्यकता नहीं है यहाँ पर आपको UPS के बारे में सारी महत्वपूर्ण जानकारी मिल जाएगी.


दोस्तों जैसे की हामारे अपने घरों, school, कॉलेज ऑफिस में  हर दिन या कभी कभी power cut तो होता है. लेकिन power cut के दौरान जितने भी इलेक्ट्रिकल सिस्टम होते हैं वह सभी पावर कट के दौरान बंद पड़ जाते हैं. लेकिन हमें इन सभी Electrical system के power cut होने से कोई नुकसान नहीं होता.  परंतु अगर हमें एक  कंप्यूटर की बात करें तो कंप्यूटर एक ऐसी  इलेक्ट्रिक डिवाइस है जिसको  continuous power की जरूरत पड़ती है.  अगर इसे   continuous power ना मिले या कंप्यूटर चलते-चलते बीच में बंद हो जाए तो इसमें data loss या फिर data के crupt होने का खतरा बना रहता है.  इसी खतरे से बचने के लिए हम हर एक कंप्यूटर के साथ UPS का उपयोग जरूर करते हैं.  क्यों UPS  हमें  continuous power प्रदान करता है कुछ समय तक जिससे की power cut की वजह से होने वाले data loss या data currpt होने से बचाता है.


दोस्तों यह UPS एक एसा hardware output device है जिसकी मदद से computer या अन्य electrical system जो कि ups से कनेक्टेड रहते हैं उसको पावर कट के दौरान  continuous power supply करने में मदद करता है. UPS ka full form Uninterruptible Power Supply  होता है. जिसका मतलब यह है की ups power cut होने पर अबाधित विद्युत आपूर्ति करता है. अगर आप UPS  के बारे में विस्तार में यह जानना चाहते हैं कि UPS kya hai, UPS ka full form kya hai, Types of UPS in Hindi, Parts of UPS तो आप इस आर्टिकल को पूरा पढ़ सकते है आपको UPS के बारे में ढेर सारी नॉलेज मिल जाएगी. तो दोस्तों चलिए शुरू करते है.


जरुर पढ़े :- Computer का full form क्या है?


जरुर पढ़े :- ATM का full form क्या है?


जरुर पढ़े :- MBps और Mbps में अंतर क्या है?


जरुर पढ़े :- OK का full form क्या है?


UPS ka Full form Kya hai? What is the Full form of UPS?


दोस्तों जैसा की मेने आपको पहले ही बता रखा है की UPS ka full form kya hota hai. 


UPS -  Uninterruptible Power Supply होता है. 


UPS ka full form hindi mai क्या है? What is the full form of UPS in HINDI?


जैसे की दोस्तों हम UPS के full form Uninterruptible Power Supply को हिंदी में समझ लेते है.

U = Uninterruptible = अबाधित

P = Power = विद्युत

S = Supply = आपूर्ति

तो UPS ka full form Hindi mai अबाधित विद्युत आपूर्ति है. जिसका मतलब है की UPS बिना बाधा के बिजली की कमी को पूरी करता है.


UPS क्या है? UPS की परिभाषा क्या है?

दोस्तों अभी तक हमलोग UPS ka full form kya hota hai के बारे में जानकारी ले चुके है.अब हमलोग UPS kya hai?और UPS की परिभाषा क्या है? के बारे में जान लेते है.


UPS एक Hardware output device है. जो जिस किसी भी electrical system से connected रहता है. उसे Power cut होने या Voltage changes होने पर एक Continuous power supply करने में help करता है. जिससे की Electric system ख़राब न हो जाय. इसका मुख्य प्रयोग Computer में कंप्यूटर को  Shut down होने से बचने के लिए किया जाता है. UPS एक प्रकार से Battery की तरह से काम करता है. जैसे हम अपने laptop charge करने के बाद बिना किसी Power supply के बिना operate कर सकते है. ठीक उसी प्रकार से अगर हम Computer के साथ भी UPS का use करते है तो हमें Power supply cut होने के बाद भी हमें कुछ समय के लिए battery backup मिल जाता है. 


Types of UPS in Hindi. UPS के प्रकार कौन कौन से है?

दोस्तों अभी तक हमलोग UPS ka full form kya hai?, UPS kya hai? के बारे में जानकारी ले चुके है.अब हमलोग Types of UPS in Hindi. UPS के प्रकार कौन कौन से है? के बारे में जान लेते है :-

UPS मुख्य रूप से पांच प्रकार के होते है :-


  1. The Standby UPS
  2. The Line Interactive UPS
  3. Standby Online Hybrid UPS
  4. Standby Ferro UPS
  5. Double Conversion On-Line UPS
  6. Delta Conversion On-Line UPS

1) The Standby UPS


Stand by UPS में Power Supply के समय इसमें उपस्थित transfer switch को power supply के द्वारा आ रहे AC Current की supply करता है और जब भी power supply cut हो जाता है तो UPS में उपस्थित 

transfer switch UPS Battery से connect हो जाता है और फिर power supply on हो जाता है और ups के साथ connected electrical system चलने लगता है. यह एक छोटे size का UPS होता है जिसका उपयोग मुख्यता Computer में power cut को रोकने के लिए किया जाता है.


2) The Line Interactive UPS


जब power supply on होता है तो Transfer Switch सीधे AC output से connected होता है और उस समय Battery charge हो रही होती है. और जब power supply cut हो जाता है तो Transfer Switch Off हो जाता है और Battery Discharging होना चालू कर देती है. यह एक बोहोत common design पर based होता है और The Line Interactive UPS का उपयोग Web और Servers में किया जाता है. इन UPS के द्वारा Low and High voltage condition को भी Fix किया जा सकता है. इस UPS को 0.5 से 5kVA की power range के लिए होता है.


3) Standby Online Hybrid UPS


यह एक online UPS है. इसमें भी जब power supply on होता है तो transfer switch के द्वारा AC  supply होती है और जब AC supply failuar हो जाता है तो बैटरी Standby DC से DC Converter transfer switch के द्वारा switch किया जाता है. इस ups में Battery से output तक का power path केवल online होता है और बाकि आधा DC to DC converter Standby mode पर होता है. इन UPS का उपयोग मुख्यता 10k VA की power range के लिए किया जाता है.


4)  Standby Ferro UPS


इसमें एक Special type के transformer का उपयोग होता है जिसमे तीन power connection होती है. जब Power supply on होता है तो AC supply AC इनपुट से लेकर Transformer से output तक जाता है और जब power supply off हो जाता है तो transfer switch off हो जाता है और UPS बैटरी से connect हो जाता है. यह मुख्यता 3 से 15k VA power range के लिए उपलब्ध होता है. इस UPS में बोहोत  सारी कामियां थी जैसे :- less efficiency etc. इसी लिए इसका प्रयोग अभी नहीं किया जाता है.


5) Double Conversion On-Line UPS


Double Conversion On-Line UPS में AC supply की जगह Inverter supply को Primary path बनाया जाता है. इसीलिए इन UPS में power cut होने के बाद भी transfer switch on नहीं होता क्यों की AC supply इसमें backup supply की तरह काम करता है.

जब भी AC power supply fail हो जाता है तो इन UPS में transfer switch को on या off करना नहीं होता क्यों की इसमें AC power supply backup  supply की तरह काम करता है. और Inverter supply Primary supply होता है. यह एक ideal electric performance देता है.

इन UPS का उपयोग ज्यादातर 10k VA से ऊपर की power range के लिए किया जाता है.


6)  Delta Conversion On-Line UPS 


Delta Conversion On-Line UPS भी Double Conversion On-Line UPS की तरह ही है पर इसकी efficiency Double Conversion On-Line UPS से काफी ज्यादा होती है इसमें  Double Conversion On-Line UPS के ग़लतियों को सुधारा गया है. इसमें Double Conversion को हटाकर Delta Conversion को लाया गया जिससे की starting और End point के बीच ही power के packets carry करके energy save कर सकता है और इन ups का प्रयोग ज्यादातर 5kVA से 1 MV तक की power range के लिए किया जाता है.


Parts of UPS in Hindi. UPS के भाग 

दोस्तों अभी तक हमलोग UPS ka full form kya hai?, UPS kya hai? और Types of UPS in Hindi  के बारे में जानकारी ले चुके है.अब हमलोग. Parts of UPS in Hindi. UPS के भाग के बारे में जान लेते है :-

UPS में मुख्य रूप से चार भाग होते है :- 

  1. Transfer Switch 
  2. Rectifier
  3. Battery
  4. Inverter

1) Transfer Switch :- switch का मुख्य काम Power supply के प्रकार को transfer करना होता है transfer switch Power cut के समय UPS Battery backup का use करता है और जब power cut नहीं होता तो यह AC Supply का उपयोग करता है.

2) Rectifier :- Rectifier का मुख्य काम AC को DC में convert करना होता है. इसका उपयोग मुख्यता UPS battery को charge करने के लिए किया जाता है. क्योंकि बैटरी को charge करने के लिए DC की जरुरत पढ़ती है और हमें घरों में AC supply किया जाता है इसीलिए rectifier का उपयोग होता है.


3) Battery :- UPS battery का प्रयोग power cut होने के समय backup के purpose के लिए किया जाता है. एक UPS बैटरी का age लगभग 4 से 6 साल तक होता है.


4) Inverter :- Inverter का मुख्य काम DC को AC में convert करना होता है. जब Battery के द्वारा power supply होता है तो battery DC generate करती है और सभी electrical system AC से चलते है. तो हम DC को AC में convert करने के लिए Inverter का उपयोग करते है. 


जरुर पढ़े :- Computer क्या है? पुरे विस्तार में कंप्यूटर के बारे में जाने.


जरुर पढ़े :- Computer के प्रकार ? पुरे विस्तार में जाने.


Advantages of UPS. UPS के फायदे  :-

दोस्तों अभी तक हमलोग UPS ka full form kya hai?, UPS kya hai?, Types of UPS in Hindi और Parts of UPS in Hindi  के बारे में जानकारी ले चुके है.अब हमलोग. Advantages of UPS. UPS के फायदे के बारे में जान लेते है :-

  1. Power failure के वक़्त भी backup देता है.
  2. यह कंप्यूटर में flow होने वाली AC supply की voltage को भी नियंत्रण करता है जिसके कारण कंप्यूटर safe रहता है.
  3. UPS के वजह से Emargency backup के चलते कंप्यूटर में होने वाले data loss या data currpt होने से बचा जा सकता है. यह हमें इतना समय दे देता है की हम कंप्यूटर में किये गए काम को save करके safely कंप्यूटर को Shut down कर सकते है.
  4. आप UPS की मदद से बिजली नहीं रहने के समय भी electrical उपकरण चला सकते है.
  5. यह हमें Current fluctuation से होने वाली समस्याओं से बचाता है. जिसके कारण electrical उपकरणों की life बनी रहती है.


Disadvantages of UPS. UPS के नुकसान :-

दोस्तों अभी तक हमलोग UPS ka full form kya hai?, UPS kya hai?, Types of UPS in Hind., Parts of UPS in Hindi और  UPS के फायदे के बारे में जानकारी ले चुके है.अब हमलोग. Disadvantages of UPS. UPS के नुकसान के बारे में जान लेते है :-

  1. Set up Cost ज्यादा होता है.
  2. Maintain करने भी ज्यादा cost pay करना होता है.
  3. UPS की ज्यादा backup के लिए बड़ी battery का होना जरुरी होता है. और जितनी बड़ी बैटरी उतना ज्यादा खर्चा.
Final Words :- 

दोस्तों मेरे को आशा है की मेरे द्वारा लिखा गया यह article  UPS ka full form kya hai?, UPS ka full form hindi mai क्या होता है?, UPS kya hai? आपको समझ आ चुका होगा अगर आपको कोई सवाल या सुझाव हो तो आप मुझे निचे दिए गए comment section में comment करे या फिर आप मुझे हमे हमारे official mail ID techreviewpad@gmail.com  पर mail कर सकते है.

दोस्तों अगर यह article आप सभी को पसंद आया तो आप अपने दोस्तों से Whatsapp, Facebook, Twiter पर Share जरुर करे और अगर आप ऐसे ही technology related और भी जानकारी पाना चाहते है तो आप Tech Review Pad को Subscribe जरुर करे. Thank You!!!!!


Post a Comment

Please do not enter any spam link in the comment box

Previous Post Next Post